Add To BookRack
Title:
Kaise Karoge Taksim Tawareekh Ko
Tags:
Kavita
Poetry
Translation
Anuvad
Urdu
Description:
रमणिका जी के हिन्दी काव्य-संकलन ‘कैसे करोगे बंटवारा इतिहास का’ का उर्दू संकलन है। इस संकलन में लगभग सभी कविताएं दो-एक को छोड़ कर 6 दिसंबर 1996 को बाबरी मस्जिद ढाये जाने के बाद तत्काल लिखी गई हैं। ये साम्प्रदायिकता के विरुद्ध जिहाद छेड़ती कविताएं हैं, जो भारतीय इतिहास को साक्षी के रूप में खड़ा कर विघटनकारी शक्तियों के तर्क को निरस्त करती हैं और व्यवस्था के लुंज-पुंज तौर-तरीकों पर भी व्यंग्य करती हैं।