Add To BookRack
Title:
Meri Aadat Ho Tum
Authors:
Tags:
Ghazal
Shayari
Love
Valentine
Description:
त्रिवेणी की तीसरी पंक्ति दो पूर्ववर्ती पंक्तियों के साथ जुड़ी है, पर अर्थ के संदर्भ को व्यापक बना देती है। वसीम अकरम की इन त्रिवेणियों में युवा मन के विक्षोभ और विषाद हैं, तो आशाएं और आकांक्षाएं भी हैं। शेरो-शायरी और कविता के विशाल कैनवस पर अपनी जगह तलाशती ये ‘त्रिवेणियां’ कवि की संवेदना का परिचायक तो हैं ही, उसकी सम्भावनाओं की दस्तक भी हैं।